बाउंस रेट क्या होता है और इसे कैसे काम करते है – Bounce Rate kya hota hai or isse kam kaise karte hai

Hello Friends! mera name Gaurav Gautam hai or aj ki humari post “Bounce Rate key hota hai or isse kam kaise karte hai” se related hai me umid karta hu apko mari ye post pasand aayegi. शायद आप bounce rate पर ज्यादा ध्यान न दिए हो, लेकिन मैं आपको बताना चाहूँगा की bounce rate हमारे Blog के quality and disquality के determine करने का एक measurement है |
हो सकता है. की इसे आप न माने लेकिन सच यही है. क्यूंकि bounce rate हमारे Blog पर आने वाले visitor के द्वारा determine किया जाता है|

अगर हमारे Blog का bounce rate जायदा है. तो इसका मतलब यर हुवा की visitor हमारे Blog पर तो आये लेकिन आकर फिर तुरंत चले गए | और ऐसा तभी होता है. जस्ब हमारे Blog पर कोई ऐसा content न हो जिसे visitor पढ़े | यहाँ पर visitor को आकर चले जाने से ये स्पष्ट हो जाता है. की visitor को हमारा Blog पसंद नहीं आया . because यदि visitor हमारे Blog को like करता तो वह हमारे Blog पर रुकता किसी और पोस्ट को पढता . जिससे हमारे Blog का bounce रेट कम होता |

1. Google Rankbrain Kya Hota Hai – Aur Rank Brain Kaise Kaam karta Hai
2. Keywords find kaise hota hai – Post ke liye Badiya Keywords kaise select kare
3. What is difference between email and gmail in hindi

दोस्तों bounce rate के द्वारा ही google ये जान पता है. की इस Blog में quality content लिख कर publish की गयी है. की नहीं
क्या bounce rate का प्रभाव हमारे Blog के search रैंकिंग पर भी पड़ता है.

हाँ | bounce rate का प्रभाव website के search रैंकिंग पर भी पड़ता है. अगर आप मेरी seo से related सभी पोस्ट पढ़े होंगे तो आपको ये पता होगा की google अपने search result में उस Blog को अच्छा rank देता है. जिस Blog में quality पोस्ट हो |और google bounce rate से ही ये पता लगत अहै. की इस Blog में quality post avalable है की नहीं . जब blog की bounce rate ज्यादा होती है. तो google ये समझता है. की इस Blog में quality पोस्ट नहीं है. और जब google ये देखता है की . इस Blog का bounce rate कम है तो . वो ये समझता है. की इस Blog में quality पोस्ट available है. और google इसी आधार पर Blog का search ranking को increase व decrease करता है.

Related Posts
1 of 17

वास्तव में bounce rate के द्वारा ही हमारे Blog का SERP INCREASE व decrease होता है.

Bounce Rate को control [ कम ] कैसे करते है.

bounce rate को तभी control किया जा सकता है. जब हम अपने Blog पर आने वाले visitor को रोक पा रहे हो | जब की मैं already अपने पिछले वाले article में ये बताया था की . Blog पर आने वाले visitor को कैसे रोके . यदि आप ये जानना चाहते है की Blog पर आये हुए visitor को कैसे रोकी जा सकती है. तो आपको मेरी ये पोस्ट पढनी ही होगी | लेकिन फिर भी मैं आपको यहाँ पर कुछ टिप्स बता दे रहा हूँ | जिससे आप अपने visitor कुछ हद तक जरूर रोक पायेंग लेकिन इसकी पूरी जानकारी के लिए मेरे पिछले वाले article को जरूर पढ़े
·ऐसा पोस्ट जो लिखे जो internet पर पहले न हो

यदि आप Blog पर आये हुए visitor को वाकई में रोकना चाहते है. तो आपको अपने Blog पर ऐसी पोस्ट लिख कर publish करनी चाहिए . internet world में पहले से न हो . क्योंकि जब आप ऐसी पोस्ट करते है. जो net पर पहले न हो तो ऐसी स्थिति में कोई भी reader आपके Blog पर आएगा तो वो हमारे उस पोस्ट को जरूर पढ़ेगा | because वो इससे पहले कभी नहीं पढ़ा है.इसलिए वो हमारे उस पोस्ट को जरूर पढ़ेगा .जिससे हमारे Blog की bounce rate कम होगी .इस तरह के पोस्ट करने से आपको केवल यही फायदा नहीं है. इसके और भी कई फायदे है. जिसको मैं अपने अगले पोस्ट में बताऊंगा . क्योंकि ये blogging के फ़ील्ड में succese होने का सबसे effective तरीका है.
regular पोस्ट करे

bounce rate को कम करने के लिए आपको . अपने Blog पर regular .कुछ न कुछ लिख कर publish करनी पड़ेगी | क्योंकि जब कोई reader आपके Blog पर आता है. तो वो आपके सभी पोस्ट को पढता है. फिर जब वो दोबारा एक दिन के बाद आपके Blog पर आएगा और आपके Blog पर कुछ न्यू content पढने को नहीं पायेगा तो .वो आपके Blog को तुरंत close कर देगा जिससे आपका bounce rate और भी लो हो जाएगी . इसिलए अपने Blog पर हमेशा कोई न कोई article लिख कर publish करते रहे .
पोस्ट की लम्बाई

जब भी पोस्ट लिखे तो कोशिश करे की आपके पोस्ट में कम से कम 500 word जरूर हो क्योकि आपके Blog के पोस्ट जितने ही लम्बे होंगे visitor आपके पोस्ट को उतने ही देर तक पढेंगे | जिससे आपका bounce rate control होगा | लेकिन यहाँ पर एक बात का ध्यान रहे की visitor को पोस्ट पढ़ते समय boring न फील हो . इससे बचने के लिए पोस्ट को अछे ढंग से लिखे . फालतू के बात पोस्ट में न लिखे . केवल काम की ही बात पोस्ट में लिखे |

पोस्ट को अच्छे ढंग से कैसे लिखी जाती है . उसकी जानकारी मेर इस पोस्ट में है.

Follow on Social Media

Leave A Reply

Your email address will not be published.