Google बनाए गए Angularjs का Second Update Angular 2 है |

0

Friends – Angularjs Google ने जिसे DEC 20, 2016 पूरी तरह से release कर दिया गया था लेकिन इसका beta version 2016 के starting से ही market में उपलब्ध है ।

हालांकि Angularjs और Angular2 दोनों के Name सुनने में तो एक जैसे ही लगते हैं लेकिन दोनों के गुण एक दूसरे से बहुत ही Different है|

Angular2 की Features जरूर पढ़े

1) – सभी Platforms के लिए एक Framework – Angular 2 One Framework मतलब है. कि Angular 2 को इस तरह से बनाया गया है किMobile और Desktop Application दोनों को एक ही Framework की मदद से विकसित किया जा सकता है | इसलिए अगर हम Angular2 की मदद से application बनाना सीख लेते हैं तो हम Angular2 के उपयोग से ही मोबाइल और डेस्कटॉप दोनों के लिए एप्लीकेशन बना सकते हैं |

Related Posts
1 of 2

2) – एप्लीकेशन की Speed & Performance :- जब हम किसी Website को अपने Browser पर open karte हैं तो Server पर से वेबसाइट के Data को हमारे ब्राउज़र पर लाकर दिखाने के समय को Angular2 बहुत कम कर देता है जिससे वेबसाइट काफी तेजी से हमारे अपने ब्राउज़र में open hoti है और 2017 मेंWebsite के डाटा को Server से लाकर browser पर दिखाने के लिए Angular2 सबसे अच्छा Framework है इससे fast कोई दूसरा Framework अभी मौजूद नहीं है|

3) – Android , IOS और Windows, एप्लीकेशन बनाने के लिए, Angular2 का Ionic Framework के साथ उपयोग करके बड़ी आसानी से एंड्रॉयड, IOS और Windows मोबाइल App बनाए जा सकते हैं|

Friends मेरी एक बात ध्येन दे की, इससे पहले कि आप Angular2 सीखना start करें apko HTML, CSS, JavaScript का पता होना चाहिए, इसके अलावा अगर आप पहले AngularJs सीख चुके हैं तो Angular2 सीखने में आपको बहुत Easy होगी लेकिन AngularJs और Angular2 दोनों ही एक दूसरे से काफी अलग है इसलिए अगर आपने पहले AngularJs नहीं भी सीखा है तो आप Angular2 से शुरुआत कर सकते हैं ऐसा नहीं है कि Angular2 सीखने से पहले आपको AngularJs सीखना ही पड़ेगा|

Angularjs Next..

Leave A Reply

Your email address will not be published.